1901 के बाद से आठवां सबसे ज्यादा गर्म साल रहा 2020: आईएमडी

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने साल 2020 के दौरान भारत की जलवायु संबंधी एक बयान में कहा कि वर्ष के दौरान देश में औसत वार्षिक तापमान सामान्य से 0.29 डिग्री सेल्सियस अधिक था.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 04 जनवरी 2021 को कहा कि वर्ष 1901 के बाद से 2020 आठवां सबसे अधिक गर्म वर्ष रहा लेकिन साल 2016 की सबसे अधिक गर्मी की तुलना में यह “काफी कम” रहा. आईएमडी के अनुसार, गुजरे हुए दो दशक 2001-2010 और 2011-2020 भी सबसे गर्म दशक दर्ज किए गए.

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने साल 2020 के दौरान भारत की जलवायु संबंधी एक बयान में कहा कि वर्ष के दौरान देश में औसत वार्षिक तापमान सामान्य से 0.29 डिग्री सेल्सियस अधिक था. यह आंकड़ा साल 1981-2010 के आंकड़ों पर आधारित है.

आठवां सबसे अधिक गर्म साल

आईएमडी ने कहा कि 1901 में देश भर के रिकार्ड रखने की शुरूआत हुयी और उसके बाद से 2020 आठवां सबसे अधिक गर्म वर्ष रहा. हालांकि, यह साल 2016 के अधिकतम स्तर से काफी कम है.

सबसे ज्यादा गर्म साल

आईएमडी के रिकॉर्ड के मुताबिक सबसे ज्यादा गर्म सालों का क्रम इस प्रकार रहा- साल 2016, साल 2009, साल 2017, साल 2010 और साल 2015. आंकड़ों के मुताबिक, साल 1901 के बाद से 15 सबसे ज्यादा गर्म सालों में 12 साल 2006 से 2020 के दौरान रहे.

पर्यावरण को कई तरह के नुकसान

जलवायु संबंधित आपदाएं, जंगलों में आग, गर्म हवाएं, सूखा और बाढ़ अमेरिका के प्रत्येक हिस्से को प्रभावित करते हैं लेकिन गरीब लोग और कमजोर इलाके इन सब आपदाओं से ज्यादा प्रभावित होते हैं. जलवायु वैज्ञानिकों का कहना है कि औसत तापमान में छोटे से परिवर्तन से भी बड़े-बड़े बदलाव हो रहे हैं. मिट्टी और पौधे सूख रहे हैं, जिससे उनके चारों और गर्म हवा का तापमान पैदा हो रहा है. इसके अतिरिक्त भी पर्यावरण को कई तरह के नुकसान हो रहे हैं.

भारतीय मौसम विज्ञान विभागएक नजर में

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की स्थापना साल 1875 में हुई थी. यह भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (Ministry of Earth Science) की एक एजेंसी है. यह मौसम संबंधी अवलोकन, मौसम पूर्वानुमान और भूकंप विज्ञान के लिये ज़िम्मेदार प्रमुख एजेंसी है.

मौसम विज्ञान विभाग का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है. इस विभाग के द्वारा भारत से लेकर अंटार्कटिका भर में सैकड़ों प्रक्षेण स्टेशन चलाये जाते हैं. मौसम विज्ञान विभाग का मुख्यालय साल 1905 में शिमला, फिर साल 1928 में पुणे और अंततः नई दिल्ली में स्थानांतरित किया गया. मौसम विभाग का नेतृत्व मौसम विज्ञान के महानिदेशक करते हैं.

Leave a Reply