भारत के लिए नेशनल एटॉमिक टाइम स्केल का महत्व

प्रधानमंत्री मोदी ने 04 दिसंबर, 2020 को नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव में अपने वर्चुअल उद्घाटन संबोधन के दौरान, ‘नेशनल एटॉमिक टाइम स्केल’, जो 2.8 सेकंड की सटीकता के साथ इंडियन स्टैंडर्ड टाइम (IST) जनरेट करने में सक्षम होगा, राष्ट्र को समर्पित किया.

यह समय का पैमाना भारत को नैनो सेकंड की सीमा के भीतर समय को मापने में आत्मनिर्भर बनने में सक्षम करेगा और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) जैसे संगठनों की भी मदद करेगा.

Leave a Reply