भारतीय खिलाड़ी सतनाम सिंह डोप में फंसे, लगा दो साल का बैन

सतनाम सिंह को साल 2015 में एनबीए ड्राफ्ट में चुना गया था. वे बास्केटबॉल की सबसे बड़ी लीग में चुने जाने वाले भारत के पहले खिलाड़ी बने थे.

नेशनल बास्केटबॉल लीग (एनबीए) में खेलने वाले भारत के पहले बास्केटबॉल खिलाड़ी सतनाम सिंह भामारा पर डोपिंग के कारण दो साल का प्रतिबंध लगा है. वे पिछले साल नवंबर में डोपिंग परीक्षण में विफल रहे थे, जिसके बाद राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) ने उन्हें अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया था.

नाडा की तरफ से लगाया गया प्रतिबंध 19 नवंबर 2019 से लागू होगा और 18 नवंबर 2021 को खत्म होगा. इस दौरान वे भारत के लिए किसी भी प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. पंजाब के खिलाड़ी को साल 2015 में एनबीए टीम डलास मेवरिक्स में चुना गया था.

दक्षिण एशियाई खेलों (सैग) की तैयारी

सतनाम सिंह दक्षिण एशियाई खेलों (सैग) की तैयारियों के लिए लगाए गए शिविर के दौरान नाडा की तरफ से बेंगलुरु में टूर्नमेंट के बाहर आयोजित हुए परीक्षण में विफल रहे थे. उस समय सतनाम सिंह ने इससे इन्कार किया था, लेकिन बाद में उन्होंने स्वीकार कर लिया था.

Leave a Reply